भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने इरोस इंटरनेशनल पीएलसी (इरोस पीएलसी), एसटीएक्स फिल्मवर्क्स इंक (‘एसटीएक्स’) और मार्को अलायंस लिमिटेड (मार्को) के प्रस्तावित संयोजन को मंजूरी दे दी है।

इरोस पीएलसी एक कंपनी है जिसका गठन आइल ऑफ मैन में किया गया और इसके शेयर न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध हैं। यह एक वैश्विक भारतीय मनोरंजन कंपनी है जो सिनेमा, टेलीविजन और डिजिटल न्‍यू मीडिया जैसे सभी उपलब्ध प्रारूपों में फिल्मों (हिंदी, तमिल, और अन्य भारतीय क्षेत्रीय भाषाओं की फिल्मों सहित) का अधिग्रहण, सह-निर्माण और वितरण करती है। इरोस पीएलसी इसके साथ ही ओवर-द-टॉप प्लेटफॉर्म ’इरोस नाउ’ का भी स्‍वामित्‍व रखती है और इसका संचालन करती है।

एसटीएक्स पूरी तरह से एकीकृत वैश्विक मीडिया कंपनी है जिसे प्रतिभा-संचालित गतिशील चित्रों (मोशन पिक्चर्स), टेलीविजन और मल्टीमीडिया कंटेंट तैयार करने, विपणन एवं वितरण में विशेषज्ञता प्राप्‍त है। एसटीएक्स ने भारतीय वितरकों को कुछ फिल्मों के लाइसेंस के जरिए भारत में अपनी अप्रत्यक्ष मौजूदगी दर्ज करा रखी है। मार्को एक कंपनी है जो ब्रिटिश वर्जिन द्वीप समूह के कानूनों के तहत संगठित और विद्यमान है। यह एक निवेश होल्डिंग कंपनी है। मार्को का नियंत्रण हॉनी कैपिटल के हाथों में है जो एक निवेश प्रबंधन फर्म है और जिसे प्राइवेट इक्विटी के अधिग्रहण में विशेषज्ञता प्राप्‍त है। इसने रियल एस्टेट, हेज फंड, म्यूचुअल फंड और नवाचार (इनोवेशन) निवेश सहित कई क्षेत्रों में अपना विस्‍तार किया है।

दो चरणों वाले सौदे के तहत यह प्रस्ताव किया गया है कि इरोस पीएलसी की एक अप्रत्यक्ष  पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी का विलय एसटीएक्स में हो जाएगा। उधर, एक इकाई के रूप में एसटीएक्स का अस्तित्‍व आगे भी बना रहेगा। उधर, हॉनी ग्रुप दूसरे चरण में मार्को, जो एसटीएक्स में एक मौजूदा निवेशक है, के माध्यम से विलय की गई इकाई के कुछ शेयरों को खरीद लेगा।

यह सौदा पूरा होने के साथ ही यह उम्मीद की जा रही है कि इरोस, एसटीएक्स और मार्को इस संयुक्त इकाई में कुछ अन्य विशेष अधिकारों के साथ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से आर्थिक और वोटिंग अधिकार हासिल कर लेंगी।

इस बारे में सीसीआई का विस्तृत ऑर्डर जल्‍द ही उपलब्‍ध होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here